ADR | Association For Democratic Reforms

ADR | Association For Democratic Reforms

एसोसिएशन फाॅर डेमोक्रेटिक रिफाॅम्स 

ADR को हम राजनीतिक सुधार का एक बहुत महत्वपूर्ण संगठन कह सकते हैं, ADR का भारतीय राजनीति में बहुत महत्वपूर्ण स्थान हैं। अपनी स्थापना से लेकर अब तक यह लगातार राजनीतिक को सुधार रहा हैं।

Association for Democratic Reforms, ADR, election watch

इस ने राजनीतिक को पारदर्शी बनाने और उस को सही राह दिया।

गैर सरकारी संगठन होने की वजह से इस का महत्व और बढ़ जाता हैं। यह सरकार का हिस्सा भी नहीं हैं लेकिन राजनीतिक मे सुधार के लिए लगातार काम कर रही हैं। इस संगठन में भेदभाव और पक्षपात का कोई स्थान नहीं हैं।

इस संगठन के महत्व को इसी बात से समझा जा सकता है कि देश में राष्ट्रीय चुनाव वाॅच के साथ यह काम करता है और 1200 से भी ज्यादा संगठनों के साथ यह काम कर रहा है।

ADR के यह सारे संगठन एक ही उद्देश्य के लिए कार्य कर रहे हैं और वह उदेश्य है भारत की राजनीति को स्वच्छ बनाना। भारतीय राजनीति को आम जनता के प्रति जवाबदेह बनाना और भारत की राजनीति में बढ़ते भ्रष्टाचार को समाप्त करना,पैसो के आधार पर चुनावों को जितना, शक्ति का प्रयोग करना,इन को ADR को पूरी तरह से समाप्त करना चाहता हैं।

इन सुधारो के बाद भारतीय राजनीति में एक पारदर्शिता आ जाएगी जिस की भारतीय राजनीति को आवश्यकता हैं।

स्थापना

ADR की स्थापना एक ऐसे जनहित याचिका के द्वारा हूई जब 1999  में अहमदाबाद इंडियन इंस्टिट्यूट (IIM) के प्रोफेसरों के एक समूह ने दिल्ली उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर की। इस जनहित याचिका का उद्देश्य चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों के आपराधिक पृष्ठभूमि को जानना उन की वित्तीय स्थिति और शैक्षणिक योग्यता क्या है? इस बात को सामने लाना।

जिस के बाद सर्वोच्च न्यायालय ने चुनाव आयोग को यह कहा कि वह सभी उम्मीदवारों के आपराधिक, वित्तीय और शैक्षणिक स्थिति को चुनाव से पहले प्रकट किया जाए। इस प्रकटीकरण को अनिवार्य कर दिया हैं।

इसकी स्थापना त्रिलोचन शास्त्री, प्रोफेसर जगदीप चोकर तथा अजित रानडे ने अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर 1999 में किया।

पहली बार गुजरात विधानसभा के चुनावों में 2002 में ADR ने चुनाव घड़ी आयोजित किया इसमें चुनाव लड़ रहे सारे उम्मीदवारों का विश्लेषण किया गया और चुनाव लड़ रहे सभी उम्मीदवारों के योग्यता अयोग्यता उन की वित्तीय स्थिति, अपराध से संबंधित के साथ  उन की शैक्षणिक योग्यता को मतदाताओं के सामने रखा।

उदेश्य

* लोकतंत्र को मजबूत करना

* शासन को अच्छा बनाने के लिए राजनीतिक में सुधार।

* चुनाव व्यवस्था में सुधार।

* राजनीति में बाहुबल प्रयोग को समाप्त करना।

* भ्रष्टाचार को खत्म करना।

* राजनीति को अपराध मुक्त बनाना।

* राजनीति और राजनीतिक दलों को जनता के प्रति उत्तरदायी बनाना।

* यह केवल देश में लोकतंत्र को नहीं लाना चाहता हैं बल्कि राजनीतिक पार्टियों के अंदर भी लोकतंत्र लाना चाहता हैं।

* ADR मतदाताओं के सामने उन के प्रतिनिधियों के योग्यता,अयोग्यता उन की वित्तीय स्थिति क्या है वो किसी अपराधिक में लीन रहे हैं या नहीं उन की शैक्षणिक योग्यता क्या है इन सब से जनता को अवगत कराना।

उपलब्धियां

2002 से ADR राष्ट्रीय चुनाव वाॅच के साथ पूरे देश में चुनावी घड़ियों का आयोजन कर रहा हैं।

इस की सब से बड़ी उपलब्धि यह है कि अब तक ADR     ने 90000 से अधिक उम्मीदवारों तथा निर्वाचित प्रतिनिधियों की अपराधिक, वित्तीय, शैक्षणिक पृष्ठभूमि का अध्ययन किया और आकड़े तैयार किया हैं।

इसके साथ-साथ ADR ने चुनावों में होने वाले खर्चो को भी जांच करता हैं।

और सभी प्रकार के आकड़ों को मीडिया तथा जनता के साथ साझा करता हैं।

ADR ने राजनीतिक दलों के आयकर रिटर्न को सार्वजनिक करवाने के लिए कार्य किया।

राजनीतिक दलों को जो राशि अंशदान के रुप में मिलती हैं उस के 20000 से अधिक होने पर राजनीति दलों को रिपोर्ट दिखानी होगी। और अब राजनीति दल 2000  से ज्यादा चंदा कैश में नहीं ले सकती हैं।U

Be the first to comment on "ADR | Association For Democratic Reforms"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*


%d bloggers like this: